मां: काश‌ फिर बचपन लौट पाते😚😍😘

क्यों कर याद नहीं आता.., मैं कैसी बड़ी हुई..,?

मां क्यों कर याद नहीं आता के मैं कब चलना सिखी थी..?

क्यों कर याद नहीं आता जब मुझे चोट लगी और तुने प्यार से उठाया था..?

आंसू पूंछकर मेरे ,सीने से मुझे लगाया था…!IMG 20200510 092156

क्यों कर याद नहीं के मैं कब रोई ,ओर तूने मुझे मनाया था..?

मुझे तो यह भी याद नहीं के क्या क्या सहकर तूने,

ज़ीद मेरी पूरी कराया था..।

मां मुझे याद नहीं मैं कब-कब कैसे बड़ी हुई..,??

ना याद आता है तेरा , मेंरी वजह से तकलीफ में होना..!

क्यों कर याद नहीं मुझे जब तू थकी.., और मैं चैन से सोई थी..?IMG 20200510 092135

मां क्यों याद नहीं आता..जब गुस्से में कूट-पीट कर मुझको , तू भी संग मेरे रोई थी‌ ।

क्यों कर याद नहीं आता जब छोटी-छोटी चीजों में तू सपने बिछोई थी..

काश याद होता एक एक पल…!

तेरे चेहरे का सूकून..हम भी आंखों में भर पाते…,

काश तेरे लबों की मुस्कुराहट को यादों में समा पाते..,

काश तेरे साथ खेले हर खेल को, हम भी याद रख पाते…,

काश तेरी मोहब्बत में..फिर से ,नन्हे से बन सो पाते..।।IMG 20200510 092216

काश लग जाते तेरे सीने से.. यह कहकर के “मां डर लगता है”..,

काश छुप जाते तेरे आंचल में..,एक‌ हाऊं के डराने से..,

काश खा पाते तेरा झूठा निवाला, हर बार प्यार से खिलाया हुआ..।


काश पास होकर तेरे इन तारों कोो भी गीन पातेे.,

काश चंदा मामा को फिर से थाली में ला पाते..,

काश बचपन वाली मिठास में ,फिर वापस हम लौट पाते…।IMG 20200212 105654

बड़े हुए हैं हम जो थोड़े..,कुछ-कुछ से बदल गए हैं…,

पर मां मोहब्बत तेरी आज भी, मुझे वो इकसार दिखती है..,

आज भी मां तू मुझे, सिर्फ मेरी मां ही लगती है..,

भले ही लड़े हजारों बार .., पर हक तुझ पर सिर्फ मेरा है..

मां आंखों में बसा तेरा .,मुस्कुराता हुआ चेहरा हैं…,

हजारों गलती करने पर भी, तू प्यार से समझाती है..

हमारे रूठ जाने पर तू भी रूठ जाती है..,।

करनी हो जहां हौसला अफजाई ,सबसे पहले तू रिस्क उठाती है….,

लड़कर सारी दुनिया से भी , तरफदारीIMG 20200115 105924 1 हमारी ही लाती है….,

प्यार से भूख आज भी मेरी, मां तू ही मिटाती है..,

कभी खाना, कभी कपड़े ,हर नखरे उठाती है..,

क्या कहूं तुझे पता नहीं , एक थैंक यू तो छोटा है..,

सच हैं मां तेरे दम पर ..,हम बिटिया राज कर पाती है..।।

14 thoughts on “मां: काश‌ फिर बचपन लौट पाते😚😍😘

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: