#दोस्ती: प्यार: देखभाल: फरिश्ता = मुस्कान

न जाने कहां से, नन्ही-सी आई वो इस तरह..,

दोस्ती का हाथ बढ़ाया कुछ इस तरह..!

छोटी-सी थी.., दादी अम्मा की तरह.,

सीख देती थी मुझे …,मेरी मां की तरह…!!IMG 20200614 103452

मेरे लिए खड़ी हो गई लड़ने.., जैसे हो वह मेरी बहना..,!

तो भाई की तरह हिफाजत भी, की कुछ इस तरह..!!

अंधेरे में उजाला लाई वो इस तरह…,

कि जिंदगी उजियाली है .. उस के दम पर,आज भी इस तरह..!

छोटी-छोटी बातों में खुशी ढूंढ लाती वो इस तरह..,

जैसे हो कोई फरिश्ता…, लगती है इस तरह…।IMG 20200614 104308

पर आज मैं उससे दूर हूं…, कुछ इस तरह…,

के चाहकर भी मिल ना पाऊं ..,मैं इस तरह..!

दुआ करती हूं खुश हो वो ..बचपन की तरह..,

ना आए कभी मुसीबत…,कुछ इस तरह…!

R.B. कहती मुझे और B.R. में उसका बुलाती..,

दुनिया भी सोचती कैसे दोस्ती

निभाती इस तरह…।IMG 20200614 104322

बीते जन्मदिन को मिलकर मनाती इस तरह….

मैरी सुपारी, खत्म खट्टा खट्ट.., जैसा संगम बनाती कुछ इस तरह …,

खट्टी-मीठी दोस्ती कहलाती जिस तरह…।।

2 thoughts on “#दोस्ती: प्यार: देखभाल: फरिश्ता = मुस्कान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: