खामोशी दिल में चूभती हैं #सबृ #तन्हाई #खामोशी

ऐ जिन्दगी क्या क्या सितम बताए तूझे…,

तू तो खामोशी को समझती हैं….।

हजारों भिड़ है दिल में मेरे…..,

फिर भी तन्हाई-सी बसती हैं…।।IMG 20200830 055057

ज़बान ‌‌‌‌‌‌‌‌कहती है…, बोल डाल….,

क्यूं-कर ये जूल्म सहे….।

दिल कहता है सब्र कर…,

सब्र से हर चीज मिलती हैं…।।IMG 20200830 055042

कभी खूशी कभी गमी…,

कभी हंसी तो‌ कभी नमी.., में जिंदगी ये कटती हैं…।

इतना शोर होने पर भी….,

खामोशी दिल में चूभती हैं…।।IMG 20200830 054949

हां…, नहीं है अल्फ़ाज़ ….,

आज दर्द कहने को….।

शायद अब दिल में….,

तन्हा-तन्हा तन्हाई.. ओर तन्हाई बसती हैं…।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: